सबसे नए तीन पन्ने :

Thursday, April 16, 2009

पियनो-एकोर्डियन के पर्याय श्री एनोक डेनिएल्स साहब-जूग जूग जीओ

रेडियोनामा के पाठको को सुरत से पियुष महेता का नमस्कार :
आज यानि 16 अप्रैल को जाने माने पियानो और पियानो एकोर्डियन वादक, जो कभी इलेक्ट्रीक ओर्गन (फिल्म मेरा नाम जोकर का रफी साहब का हीर वाला गाना) और सिंथेसाईझर (जब से बलम घर आये-फिल्म आवारा) भी बजा लेते है, अपने सुमधूर जीवन के 76 साल पार करके 77वे सालमें प्रवेष कर चूके है । तो एस अवसर पर रेडियोनामा उनको जन्मदिन की मुबारकबाद देते हुए उनको अपनी आयु के 100 साल पूरे होने तक इसी तरह जनता के सामने मंच पर अपने प्यारे एकोर्डियन के साथ अपनी कला का निख़ार कर सके ऐसी शुभ: कामना ।
तो इस अवसर पर इनके कई सीमा चिन्ह रूप एलपी आल्बमो (डान्स टाईम, विन्टेज वाईन जो उस समय के हिसाब से पूराने गानो का सबसे पहला स्टीरीयो रेकोर्ड जिसके वाद्यवृन्दमें एक भी वीजाणू साझ नहीं था और ) एक ही फिल्म के सब के सब गानोकी धूनों की एक साथ प्रस्तूती वाले एलपी आल्बम मेरा नाम जोकर से इसके शिर्षक गीत की धून पियानो एकोर्डियन पर इनकी बजाई प्रस्तूत है, जिसका जिक्र मैनें मेंडोलिन वादक श्री महेन्द्र भावसार के जन्मदिन की पोस्टमें इसी गाने की मेन्डोलीन पर धून प्रस्तूत करते वक्त किया था । इस नीचे प्रस्तूत धून में वाद्यवृन्दमें मेन्डोलीन श्री महेन्द्र भावसार का ही है पर एक और जानकारी भी शौख़ीन श्रोता लोग के लिये बताना काहता हूँ, जो श्री एनोक डेनियेल्स साहब ने मूझे कभी जबानी बताई है । इस गानेमें आप सभी को राज कपूरजी का शूरूआती जोकर शब्द के बाद हा हा हा हा वाली हंसी तो याद होगी ही । तो इस धून की रेकोर्डिंग के पहेले उनके आमंत्रीत सेक्सोफोन वादक स्व. ज़्होनी रोड्रीग्स ने कहा की इस हंसी को वे इस साझ यानि सेक्सोफोन पर बजा सकते है, तो श्री एनोक डेनियेल्स साहब ने जब सुनाने को कहा और जब सुना तो स्वाभावीक रूपसे उनको बहोत पसंद आया और इसका असर आप नीचे खूद ही सुनिये । श्री एनोक डेनियेल्स साहबने अपने इस एल पी के बेक कवर पर इस बात का जिक्र भी किया है, पर पुरस्कार के प्रोब्लेम के कारण प्रकाशक कम्पनीने नाम बताने की बात पर रोक लगाई थी । इस तरह एक होनहार वादक कलाकार फिल्मी दुनिया के कई बिना नाम (नाम सिर्फ फिल्म संगीत कारों तक ही सीमीत रहा ) दाम कमाने वाले वादक कलाकारो की श्रेणी का एक हिस्सा बन गया ।


2.2-K H J E D.mp3


हर दिन जो प्यार करेगा-फिल्म संगम
इस गीत के बारेमें एक ख़ास बात ऐसी है कि इस असल गानेमें फिल्म के परदे पर राज कपूर खूद एकोर्डियन बजाते दिखाई देते है और इस गाने के वाद्यवृन्द में एकोर्डियन खास साझ रहा है, बल्कि रहे है । यानि इस साझ की असर को उपर उठाने के लिये इस को दो कलाकारों से एक साथ बजवाया गया है, जिसमें एक है आज के व्यक्ति विषेष आदरनिय श्री एनोक डेनियेल्स खूद । (आप सोचेंगे कि अन्य कलाकार कौन है तो बहोत साल पहेले एक जानी मानी हिन्दी फिल्म पत्रीकामें एक कलाकार की मुलाकात मैंनें पढी थी, उसकी याद दास्त के आधार पर जब मैंनें श्री एनोक डेनियेल्स साहब से पुष्ठी चाही तो उंन्होंनें पुष्ठी की कि अन्य कलाकार श्री सुनित मित्रा है । हालाकि, सुमितजीने श्री डेनियेल्स साहब का जिक्र नहीं किया था या किया भी होगा तो उस पत्रिकाने सम्पादनमें निकाल दिया था इतना तो अवश्य है ।) इन कौंस के बाहर की बातों को इस धून के पहेले आप उस स्टेज कार्यक्रम के उद्दघोषक श्री मंगेश वाघमारे जो विविध भारती के पूना स्थानिय विज्ञापन प्रसारण सेवा के स्थायी उद्दघोषक है वे बतायेंगे ही । एक और ख़ास बात ये है कि इस गाने कि धून को रेकोर्ड या केसेट या सीडी पर उन्होंनें कभी बजाया ही नहीं है । (इस गाने की एक धून इलेक्ट्रीक हवाईन गिटार पर उस ज्मानेमें सुनिल गांगुलीने बजाई थी जो सी बी एस मुम्बई पर बजती रहती थी ।)

Gअब्ब्et this widget Track details eSnips Social DNA

अब इस गाने का विडीयो देख़ीये

इस स्टेज शॉ के बारेमें और बातें और श्री एनोक डेनियेल्स साहब के इस शॉ के साथी कलाकार तथा सेक्सोफोन और वेस्टर्न फ्ल्यूट वादक श्री श्याम राजजी का एक छोटासा दृष्य साक्षात्कार नीचे दी हुई लिन्क पर पढ़ीये और देख़ीये ।
http://radionamaa.blogspot.com/2009/03/blog-post_14.html

साथमें एक बात और है कि इस स्टेज कार्यक्रम, जिसका जिक्र मैनें सेक्सोफोन वादक श्याम राजजी के लघू विडीयो वार्तालाप को प्रस्तूत करतेसमय उपर की लिंक में किया ही था, के एक अंश को इस मंच पर बिल्लीमोरा की कला संस्था गुन्जन ललित-कला और इसके मूख़्य कर्ताहर्ता श्री नरेश मिस्त्री के सौजन्य से आप के लिये प्रस्तूत किया गया है, और अगर कोई इस पूरे कार्यक्रम का लूफ़्त उठाना चाहते है, तो इस की ओडियो सीडी या विडीयो डीवीडी उनसे 91-9723814790 पर सम्पर्क करके पा सकत है, जो नहीं मूनाफा, नहीं घाटा वाली किमत पर पा सकते है । इस सीडी के कवर पेज चित्र के लिये अलग पोस्ट प्रकाशित होगी जिसकी वजह मेरे पीसी की मेमरी का प्रोब्लेम है ।
श्री एनोक डेनियेल्स साहब के बारेमें और जानकारी उनकी वेबसाईट पर नीचे मिलेगी ।
www.enochdeniels.com
पिय़ुष महेता-सुरत

3 comments:

annapurna said...

डेनियल साहब को यह दिन बहुत-बहुत मुबारक !

अच्छी जानकारी है इस चिट्ठे में।

कमल शर्मा said...

डेनियल साहब को जन्‍म दिन की ढेर सारी शुभकामना। पीयूष भाई आप हमेशा बेहतर जानकारी देते हैं आपको साधुवाद।

लावण्यम्` ~ अन्तर्मन्` said...

बहुत बहुत मुबारक और अच्छी है जानकारी दी आपने पियूष भाई

Post a Comment

आपकी टिप्पणी के लिये धन्यवाद।

अपनी राय दें