There was an error in this gadget

Tuesday, January 4, 2011

खुशियाँ ही खुशियाँ हो दामन में जिसके

1977 के आसपास राजश्री प्रो की एक फिल्म रिलीज हुई थी जिसका कथानक अलग तरह का था और इसी फिल्म से अभिनेत्री रामेश्वरी ने हिन्दी फिल्मो में क़दम रखा था। फिल्म हैं - दुल्हन वही जो पिया मन भाए

इस फिल्म के दो गीत फिल्म की ही तरह बहुत लोकप्रिय हुए थे और रेडियो के सभी केन्द्रों से सुनवाए जाते थे जिनमे से एक गीत अब भी अक्सर सुनवाया जाता हैं पर यह दूसरा गीत नही सुने बहुत दिन हुए।

इस गीत को यसुदास, बंसरी सेनगुप्ता और हेमलता ने गाया हैं। बंसरी सेनगुप्ता का शायद यह एक ही हिन्दी फिल्मी गीत हैं। गीत का मुखड़ा मुझे याद आ रहा हैं -

खुशियाँ ही खुशियाँ हो दामन में जिसके

क्यों न खुशी से वो दीवाना हो जाए

ऐसे मुबारक मौके पे साथी इश्क वालो का नजराना हो जाए

पता नहीं विविध भारती की पोटली से कब बाहर आएगा यह गीत…

2 comments:

જીવન ના િવિવધ રંગો said...

Badhai Ho Annapurna Ji Aaj Ki Triveni me Ye Song Baja Tha.

Atul

annapurna said...

shukriya !

Post a Comment

आपकी टिप्पणी के लिये धन्यवाद।

अपनी राय दें