सबसे नए तीन पन्ने :

Wednesday, April 13, 2011

'आवाज़ की दुनिया के दोस्तो' के लेख़क श्री गोपाल शर्माजी को शादी की सालगिरह मुबारक हो

piyushji gopalji

पाठक गण,

आज का दिन रेडियो श्रीलंका की हिन्दी सेवा के भूतपूर्व और अनोख़े मौलिक प्रकार के उद्दघोषक और बादमें भारतमें फ्रीलान्सर प्रसारक रह चूके श्री गोपाल शर्माजीकी शादी की साल-गिरह और साथमें उनकी आत्मकथा 'आवाझ की दुनियाके दोस्तों' के प्रकाशन की भी साल गिरह है । तो श्री गोपाल शर्माजी को इस अवसर पर दोहरी बधाई और उनकी पत्नीजी श्रीमती शशी शर्माजी को भी बधाई रेडियोनामा की और से और उनकी आवाज़ के प्रेमी लोगों की और से प्रस्तूत है । नीचे लेबल्स या श्रेणीमें उनके नाम पर चटका लगाने पर मेरी इसी मंच पर उनके बारेमें लिख़ी गई पोस्ट परसे उनकी यही किताब के प्रथम प्रकाशन के कार्यक्रम के अंश तथा मेरी उनके घर उनसे की गई बात-चीत दृष्य-श्रव्य रूपमें आप पायेंगे । एक ख़ुशी इस बात की है कि आज रेडियो श्रीलंका से वहाँ की निवृत (हाल कैजुअल ) उद्दधोषिका श्री पद्दमिनी परेराजीने भी उनकी बधाई दी और मेरे सहित अन्य श्रोताओं के बधाई संदेश प्रस्तूत किये ।

पियुष महेता ।
सुरत-395001.

3 comments:

डॉ. अजीत कुमार said...

गोपाल शर्मा जी एवं उनकी धर्मपत्नी शशि जी को हमारी और से बधाइयां.. भगवान् उनकी जोड़ी इसी तरह ताउम्र बनाए रखे. मैं गोपाल जी से कहना चाहूँगा कि अगर हो सके तो अपने कुछ अनुभव इस रेडियोनामा के माध्यम से हम श्रोताओं से साझा करें तो अति उत्तम.

annapurna said...

आदरणीय गोपाल शर्मा जी और शशि जी को बधाई ! और शुभकामनाएं !!

PIYUSH MEHTA-SURAT said...

हालाकि यहाँ पोस्ट मेरे द्वारा 13 अप्रिल को रख़ी गयी है , पर डो. अजीत कूमार द्वारा मेरी श्री गोपाल शर्माजी के साथ फोटो को इस पोस्ट से ता. 14 के दिन ज़ूड़ने के कारण पोस्टींग तारीख़ 14 पडी है पर आज यानि दि. 13 होगी ।

Post a Comment

आपकी टिप्पणी के लिये धन्यवाद।

Post a Comment

अपनी राय दें